श्री राजनाथ सिंह जी द्वारा राष्ट्रीय परिषद के अधिवेशन के दूसरे दिन दिया गया अध्यक्षीय भाषण (19/01/14)

नई दिल्ली। मित्रों, कल से हमारी यह राष्ट्रीय परिषद की बैठक चल रही है। कई महत्वपूर्ण विषयों पर यहां हमलोगों ने अपने विचार व्यक्त किए हैं। हमारे राष्ट्रीय नेताओं के भी विचार आपने सुने हैं और जो विचार प्रस्तुत किए गए हैं, उस पर बहुत सारे राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों ने भी अपने संशोधन पेश किए हैं। बहुत ही यह सार्थक बैठक रही है, मैं यह कह सकता हूं। लेकिन जैसा मैंने कल कहा था, आज उसी को दोहराना चाहता हूं कि 2014 के चुनाव में 272-प्लस का टारगेट लेकर हमलोग चुनाव के मैदान में उतरने जा रहे हैं और मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं कि भारतीय जनता पार्टी अपने लक्ष्य को हासिल करने में पूरी तरह से कामयाब हो पाएगी। क्योंकि भारतीय जनता पार्टी इस हिन्दुस्तान की एक ऐसी राजनीतिक पार्टी है जिसके पास एक स्ट्रॉन्ग ऑर्गेनाइजेशन है, जिसकी क्लीयर एंड क्लीन पॉलिटिक्स है और साथ-ही-साथ हमारे साथ पॉपुलर लीडरशिप भी है। जिस राजनीतिक पार्टी के पास ये तीनों चीजें हैं, तो दावे के साथ कहा जा सकता है उस राजनीतिक पार्टी को सफलता हासिल करने से कोई भी रोक नहीं सकता। जहां तक कांग्रेस का प्रश्न है तो कल सारा देश सोच रहा था कि कांग्रेस भी अपने पीएम प्रत्याशी की घोषणा करेगी, लेकिन कल कांग्रेस की बैठक में वह पार्टी अपने प्रत्याशी की घोषणा नहीं कर पाई। यानी कांग्रेस ने इस प्रधानमंत्री पद के रेस से खुद को बाहर कर लिया है और अपनी पराजय को स्वीकार कर लिया है। जब सेनापति का मनोबल टूट जाता है तब सेना का हश्र क्या होता है, इसे बताने की जरूरत नहीं है। मैं यह मानता हूं कि आदरणीय अटल बिहारी वाजपेयी जी और हमारे आदरणीय लालकृष्ण आडवाणी जी, इन दोनों ने हिन्दुस्तान की राजनीति में हमारी पार्टी को नई ऊंचाई देने का काम किया है कि आज फौलादी इरादों के साथ हम यह कहने की स्थिति में खुद को पा रहे हैं कि आगामी 2014 के चुनाव में हम क्लीयर मेजोरिटी हासिल करके एक मजबूत और स्थायी सरकार बनाएंगे। यह अटल जी और आडवाणी जी के ही अथक प्रयास का परिणाम है कि आज हमारे हौंसले इतने बुलंद हैं। लेकिन इस सच्चाई को हमें भूलना नहीं चाहिए कि कांग्रेस यह कभी नहीं चाहेगी कि भारतीय जनता पार्टी को क्लीयर मेजोरिटी मिले और भारतीय जनता पार्टी इस देश में एक मजबूत एवं स्थायी सरकार बना सके। इसलिए बहुत सारे मायावी जाल भी फैलाए जाएंगे और हमें कांग्रेस के उस मायावी जाल को भी समझना होगा। इस सच्चाई को भी समझना होगा और मैं समस्त देशवासियों से यह अपील करना चाहूंगा कि गैर-बीजेपी और एनडीए राजनीतिक दलों को अथवा जो भी राजनीतिक पार्टियां हैं, उनको अगर वोट देंगे तो वह किसी तरीके से घूम-फिरकर कांग्रेस के ही पक्ष में जाएगा।

मित्रों, भारतीय जनता पार्टी अपना चुनावी घोषणा-पत्र जारी करेगी, लेकिन उसके अतिरिक्त मैं सभी राज्य इकाइयों से अपील करूंगा कि हर पार्लियामेंटरी काउंसिल का भी आप अपने राज्य के स्तर पर एक अलग से भी मेनिफेस्टो तैयार करें कि जब हमारी केंद्र में सरकार बनती है तो हमारे देश में कौन-कौन सी ऐसी बड़ी समस्याएं हैं जिनका समाधान हम कर सकते हैं। और यह संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के स्तर पर भी इस प्रकार के घोषणा-पत्र अगर जारी किए जाते हैं तो निश्चित रूप से हम सभी को उसका लाभ मिलेगा। बहनों-भाइयों, इस चुनाव का विशेष महत्व है, क्योंकि इस बार के चुनाव में हम केवल सरकार बनाने के लिए नहीं लड़ रहे, बल्कि भारत का इतिहास बनाने के लिए यह चुनाव लड़ रहे हैं। इस विश्वास के साथ कि हम आने वाले चुनाव में क्लीयर मेजोरिटी के साथ सरकार बनाएंगे, मैं आप सबसे यही अपील करना चाहूंगा कि

सेनानी करो प्रयाण अभय,

भावी इतिहास तुम्हारा है

अब नखत अमा के बुझते हैं

सारा आकाश तुम्हारा है

यही अपील करते हुए अब मैं समापन की ओर बढ़ रहा हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top