श्री राजनाथ सिंह जी का मुंबई के बीकेसी ग्राउंड पर दिया गया पूरा भाषण (22/12/13)

महाराष्ट्र व भारत को कांग्रेस-मुक्त बनाएं – राजनाथ सिंह

मुंबई के बीकेसी ग्राउंड पर श्री राजनाथ सिंह जी ने भारी जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मुंबई जल समुद्र के किनारे बसा है और आज यह जन समुद्र देखकर मन हर्षित हो रहा है। इस मौके पर उन्होंने सबसे पहले छत्रपति शिवाजी, वीरसावरकर, बाल गंगाधर तिलक, भीमराव अंबेडकर जैसे महान हस्तियों को याद किया। उन्होंने बाला साहब ठाकरे को भी याद करते हुए कहा कि दुनिया की कोई ताकत जब हिन्दुस्तान के खिलाफ आवाज उठाती थी तो इसी धरती से बाला साहब की गर्जना होती थी। आज के राजनीतिक परिदृश्य पर गौर करते हुए श्री राजनाथ सिंह जी ने कहा कि देश का मौसम बदल चुका है। अभी पांच राज्यों के चुनाव में चार में भाजपा ने जीत का परचम लहराया। उन्होंने मिजोरम में कांग्रेस की जीत का जिक्र करते हुए कहा कि दौड़ में जो जीतता है वो विजेता होता है और एक वो होता है जिसे सांत्वना पुरस्कार दिया जाता है तो मुझे लगता है कि मिजोरम की जनता ने कांग्रेस को सांत्वना पुरस्कार दिया है।

उन्होंने हाल के दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजों पर जिक्र करते हुए कहा कि दिल्ली की जनता ने कांग्रेस को सबक सिखाया है और केवल आठ विधायक जीते हैं। उन्होंने कहा कि आठ विधायक तो एक इनोवा गाड़ी में बिठाकर दिल्ली पहुंचाए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान की जनता में कांग्रेस को लेकर जबरदस्त आक्रोश है। श्री राजनाथ सिंह जी ने कहा कि इसके पीछे कारण तो बहुत सारे हैं, लेकिन उनमें प्रमुख हैं – भ्रष्टाचार, गरीबी, बेरोजगारी व महंगाई। उन्होंने कहा कि जब से कांग्रेस आई है, महंगाई बढ़ती ही जा रही है। 2004 से लेकर 2009 के बीच जनता महंगाई से त्रस्त हो गई तो 2009 में इसी मनमोहन सरकार ने जनता से माफी मांगी और कहा कि बस 100 दिन और दे दो, महंगाई पर काबू पा लेंगे। मगर देश की जनता आज भी महंगाई से कराह रही है। गैस सिलेंडर के दाम बढ़ रहे हैं, प्याज की कीमत ने सबको रुला दिया है, हर एक आदमी के घर का बजट बिगड़ चुका है, ऐसे में देश की जनता कांग्रेस को माफ नहीं कर सकती।

श्री राजनाथ सिंह जी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार का जिक्र करते हुए कहा कि जनता ने अटल जी की भी सरकार देखी है। उस सरकार में महंगाई पर पूरी तरह अंकुश था। दुनिया के तमाम देशों ने हमें आर्थिक मदद देनी समाप्त कर दी थी, फिर भी महंगाई काबू में थी। मगर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी कहती हैं कि हमारे पास कोई जादू की छड़ी नहीं है, तो मैं सोनिया जी से कहना चाहूंगा कि वो जादू की छड़ी अटल जी के यहां है और अब वो छड़ी नरेंद्र मोदी जी के पास है।

श्री राजनाथ सिंह जी ने कहा कि हमारी लड़ाई किसी व्यक्ति विशेष से नहीं है, बल्कि रुपए की स्थिति दिन-ब-दिन कमजोर होती जा रही है, बाजार की स्थिति चिंताजनक है। देश भ्रष्टाचार, महंगाई, गरीबी व बेरोजगारी से जूझ रहा है, हमारी लड़ाई इस बात को लेकर है। उन्होंने कहा कि आगामी भाजपा की सरकार आते ही हम एक्सपोर्ट करेंगे, इम्पोर्ट पर लगाम लगाएंगे, विदेशों से कम कर्ज लेंगे और रुपए की स्थिति को सुधारने के लिए हरसंभव कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि जिस सरकार में भ्रष्टाचार के साथ विकास होता है, वह राक्षसी विकास होता है।

श्री राजनाथ सिंह जी ने महाराष्ट्र में कैंपाकोला घोटाला, सिंचाई घोटाला व आदर्श घोटाले पर महाराष्ट्र सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आदर्श सोसायटी कारगिल शहीदों की विधवाओं के लिए बनी थी, लेकिन जिस तरह आपसी घालमेल कर इस घोटाले को अंजाम दिया गया, वह तकलीफदेह है। उन्होंने जोर देकर कहा कि अगर भाजपा की सरकार बनती है तो ऐसे घोटालों की कलई खोली जाएगी। उन्होंने अटल जी के शासन को याद करते हुए कहा कि उनके शासनकाल में किसी मंत्री पर ऐसे आरोप नहीं लगे, लेकिन कांग्रेस की सरकार तो रिकॉर्ड बना रही है। उन्होंने कहा कि गरीबी बढ़ती ही जा रही है और गरीबों व गरीबी का मजाक उड़ाया जा रहा है। नरेंद्र भाई के विषय में कहा जा रहा है कि यह चाय बेचने वाले हैं, यह कैसी आलोचना है। यदि एक आइसक्रीम बेचने वाले अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा हो सकते हैं, एक अखबार बेचने वाले भारत के राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम हो सकते हैं, एक लकड़ी काटने वाले इब्राहम लिंकन हो सकते हैं तो एक चाय बेचने वाला भारत का प्रधानमंत्री क्यों नहीं हो सकता?

श्री राजनाथ सिंह जी ने विरोधियों पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि विपक्षी कहते हैं कि भाजपा चोर है, जहरीली पार्टी है। उन्होंने कहा कि हमें यह सब सुनकर गुस्सा नहीं आता है, गुस्सा तब आता है जब पाक सेना भारत में घुसकर हमारी सेना की हत्या करते हैं। हमें गुस्सा तब आता है जब चीन दुस्साहस करते हुए अरुणाचल प्रदेश के भीतर प्रवेश कर हमारे ही घर में आकर हमें ही धौंस दिखाता है। गुस्सा तब आता है जब अमेरिका भारत को आतंकी हेडली का प्रत्यर्पण नहीं करता है। उन्होंने कहा कि जब-जब देश में बुरा दौर आया है हमारी सेना ने अदम्य साहस और पराक्रम का परिचय दिया है। उन्होंने भारतीय सेना पर फक्र करते हुए कहा कि भारतीय सेना को खुला छोड़ दो, विरोधी देशों को मुंह की खानी पड़ेगी।

श्री राजनाथ सिंह जी ने लोकपाल का जिक्र करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार में आकंठ डूबे लोग कहते हैं कि हमने संसद में लोकपाल बिल पास करवा दिया। उन्होंने कहा कि दरअसल इस लोकपाल की शुरुआत अटल जी के शासनकाल से हुई। अटल जी ने सोचा था कि अगर भारत के प्रधानमंत्री पर कोई आरोप लगे तो देश की जनता कहां शिकायत करने जाए तो यह तमाम विचार रखते हुए इस पर मंथन हुआ था। श्री राजनाथ सिंह जी ने लोकपाल बिल पास कराने के लिए अन्ना हजारे को श्रेय दिया।

श्री राजनाथ सिंह जी ने महाराष्ट्र में किसानों की हुई आत्महत्याओं पर दुख जताते हुए कहा कि मैं आप सबों से अपील करना चाहूंगा कि आप यहां की 48 सीटों में से 46 सीटों पर हमें जीताएं। उन्होंने जनता से महाराष्ट्र को कांग्रेस-मुक्त और भारत राष्ट्र को कांग्रेस-मुक्त बनाने की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top