सपा की सरकार बनते ही उप्र में दंगे शुरू हो जाते हैं : राजनाथ सिंह

1e2-630x372

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी (सपा) की सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि प्रदेश में सपा की सरकार आते ही सांप्रदायिक दंगे शुरू हो जाते हैं। गोरखपुर के मानबेला मैदान में आयोजित विजय शंखनाद रैली को संबोधित करते हुए राजनाथ ने कहा कि राजनीति इंसाफ और इंसानियत के आधार पर की जानी चाहिए। समाजवादी पार्टी (सपा) की सरकार नौजवानों को जाति और धर्म में बांट रही है। गरीबों की गरीबी को मजहब के आधार पर बांटा जा रहा है, यहां तक कि बच्चों को भी धर्म और संप्रदाय के आधार पर बांटा जा रहा है। छात्रवृत्ति बांटने में भी धर्म के आधार पर भेदभाव किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि नौजवानों को बेरोजगारी के संकट से जूझना पड़ रहा है। प्रदेश सरकार ने नौजवानों के भविष्य के साथ घिनौना काम किया है। मस्तिष्क ज्वर से प्रतिवर्ष सैकड़ों बच्चों की जान जाती है, लेकिन कोई ठोस उपाय नहीं किया जाता। भाजपा अध्यक्ष ने जनता को आश्वासन दिया कि यदि भाजपा की सरकार बनी तो इस बीमारी की रोकथाम के लिए समुचित कदम उठाएगी और इस बीमारी से पीड़ित बच्चों के इलाज का पूरा खर्च सरकार वहन करेगी। सिंह ने कहा कि सपा ने वादा किया था कि एक वर्ष के अंदर सूबे में 18 से 24 घंटे बिजली मिलेगी, लेकिन न तो बिजली मिल रही है, न किसानों को समय पर खाद और बीज मिल रहा है। कांग्रेस के नेतृत्वा वाली केंद्र की सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने मजहब के आधार पर देश का विभाजन कराया। इसी पार्टी ने 1984 में सिखों के विरुद्ध दंगे कराए थे। राजनाथ ने कहा, “प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह कहते हैं कि नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने से देश बर्बाद हो जाएगा, लेकिन खुद उन्हें इसका जवाब देना चाहिए कि 10 वर्ष के उनके कार्यकाल में भारत क्या आबाद हो गया?” केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा सांप्रदायिक हिंसा विधेयक को किसी भी कीमत पर पास नहीं होने देगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top