Quotes

  • स्वस्थ लोकतंत्र में प्रमुख अंग विपक्ष की अहम भूमिका है, हम उसका सम्मान करते हैं।.
    राजनाथ सिंह गृहमंत्री, केंद्र सरकार।
  • भारत के मान, सम्मान और स्वाभिमान की रक्षा के लिए जो कुछ भी करना पड़ेगा वो हम करेंगे। कश्मीर भारत का अभिन्न अंग था, है और रहेगा।.
    राजनाथ सिंह
  • भारत की साख और विश्वसनीयता पूरी दुनिया में बढ़ी है।.
    राजनाथ सिंह
  • जिस तरह से जनता ने लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की झोली पूरी तरह भरा है, उससे हम लोग कर्जदार हो गये हैं। इस कर्ज को मेरे साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी प्राणों की बाजी लगा कर भी उतारने का प्रयास करेंगे। देश के सम्मान पर चोट बर्दाश्त नहीं की जाएगी।.
    राजनाथ सिंह
  • सरकार पाकिस्तान से अच्छे रिश्ते चाहती है लेकिन हुर्रियत से कोई बातचीत नहीं होगी। देशविरोधी लोगो से कोई बात नहीं की जाएगी : केंद्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह.
    राजनाथ सिंह
  • बिहार चुनाव का एजेंडा विकास और गुड गवर्नेंस होगा।.
    राजनाथ सिंह
  • मनुष्य की संतुष्टि का संबंध खुशहाली से है और वह खुशहाली योग के जरिए हासिल की जा सकती है।.
    राजनाथ सिंह
  • इस देश ने सदैव सभी कौम को पनाह दी है और उसकी रक्षा की है। देश की आन – बान – शान पर कोई आँच न आने पाए।.
    राजनाथ सिंह
  • इतिहास को सही संदर्भों में पेश किया जाना चाहिए ताकि मेवाड़ के शासक महाराणा प्रताप को अधिक तरजीह मिल सके। इतिहासकार ‘अकबर द ग्रेट’ कहें, इस पर हमें कोई एतराज नहीं है लेकिन ‘प्रताप द ग्रेट’ क्यों नहीं?.
    राजनाथ सिंह
  • सरकार हिंदी और ऊर्दू सहित सभी भारतीय भाषाओँ को प्रोत्साहित कर रही है। संस्कृत सभी भारतीय भाषाओँ की माँ है और सभी भाषाएँ परस्पर बहनें हुईं।.
    राजनाथ सिंह
  • भारत अपनी परमाणु क्षमता का उपयोग शांतिपूर्ण उद्देश्‍यों के लिए करने को प्रतिबद्ध है।.
    राजनाथ सिंह
  • आतंकवाद की कोई सीमा नहीं होती है। इसका कोई मूल्य नहीं होता। कोई सिद्धांत नहीं होता। मानवता से शत्रुता ही इसका एकमात्र उद्देश्य है।.
    राजनाथ सिंह
  • 5 – 10 साल में भारत ऐसा भारत बनेगा जो सिर्फ धनवान हीं नहीं बल्कि ज्ञान – विज्ञान के क्षेत्र में पूरे विश्व का नेतृत्व करेगा।.
    राजनाथ सिंह
  • हमारे प्रधानमंत्री जी दुनिया में सिर्फ राजनैतिक कूटनीति हीं नहीं बल्कि सांस्कृतिक कूटनीति करने भी जाते हैं ताकि भारतवासियों का मस्तक गर्व से ऊँचा उठा रहे।.
    राजनाथ सिंह
  • हम सांप्रदायिक आधार पर लोगों को विभाजित करने के प्रयास की राजनीति में विश्वास नहीं करते।.
    राजनाथ सिंह
  • राजनीति लोकतंत्र पर आधारित होनी चाहिए , हिंसा का स्थान स्वस्थ राजनीति में नहीं होना चाहिए |.
    राजनाथ सिंह
  • चाहे हमें कितना ही प्रेशर बिल्ड अप बनाना हो, हम दाऊद को लाकर ही रहेंगे। उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी है। पाकिस्तान उसका पता लगाने और कानूनी प्रक्रिया शुरू करने में विफल रहा है। भारत उसे सौंपे जाने के बारे में सभी स्तरों पर दवाब बनाए हुए है। .
    राजनाथ सिंह
  • खेत की न्यूनतम आमदनी तय हो और उस आमद राशि का बीमा हो न कि फसल का बीमा हो।.
    राजनाथ सिंह
  • मेरे सरकार की मान्यता है कि चाहे किसी भी धर्म को माननेवाला कोई क्यों न हो, उसके पूजा स्थल पर कोई आक्रमण होता है, उसके आस्थास्थल पर कोई चोट पहुँचता है तो उसकी पूरी सुरक्षा हो , हमारी कोशिश हो कि हिन्दुस्तान के माइनॉरिटीज में सेन्स ऑफ़ फियर के जगह सेन्स ऑफ़ डेवलपमेंट का स्थान हो।.
    राजनाथ सिंह
  • हमारा मानना है कि जेलों में कैदियों की संख्या को कम किया जाना चाहिए। अनावश्यक जेल यातना देना कोई इन्साफ नहीं है।.
    राजनाथ सिंह
  • मैं चाहूँगा कि हिंदुस्तान के हर शिक्षण संस्थाओं, स्कूलों – कॉलेजों में इसे चिपकाया जाना चाहिए : गृहमंत्री।
    What Lord Macaulay Said About India In 1835 – Every Indian Should Read This.
    I have traveled across the length and breadth of India and I have not seen one person who is a beggar, who is a thief. Such wealth I have seen in this country, such high moral values, people of such calibre, that I do not think we would ever conquer this country, unless we break the very backbone of this nation, which is her spiritual and cultural heritage, and, therefore, I propose that we replace her old and ancient education system, her culture, for if the Indians think that all that is foreign and English is good and greater than their own, they will lose their self-esteem, their native self-culture and they will become what we want them, a truly dominated nation.
    Rajnath Singh
  • किसी भी तरह के राष्ट्रद्रोह करने वाले को बख्शा नहीं जाएगा।.
    राजनाथ सिंह
  • वसुधैव कुटुंबकम । इस्लाम और ईसाई के सारे फिरके केवल भारत में मिलते हैं। अपने महान भारत देश का चरित्र हीं ऐसा है जो सबको साथ लेकर चलना चाहता है। जाति, पंथ, मजहब के नाम पर नफरत पैदा करने जैसा गंभीर अपराध कोई दूसरा नहीं है। भारत की तरह ज्ञान और बौद्धिक क्षमता की ऊँचाईयों को कोई दूसरा नहीं पा सका। जो पिंड में है, वही ब्रह्माण्ड में है।.
    राजनाथ सिंह
  • देश में धर्मांतरण विरोधी कानून की आवश्यकता पर बहस की जरूरत है।.
    राजनाथ सिंह
  • जब भी अवसर मिलेगा हमारे बीएसएफ अपनी जांबाजी दिखाएँगे। हमें दुनिया की कोई ताक़त शिकस्त नहीं दे सकती। आज BSF ही है जो राष्ट्र की रक्षा में अग्रणी भूमिका निभा रहा है।.
    राजनाथ सिंह
  • युवाओं का ऑनलाइन के जरिए कट्टरपंथ की गिरफ्त में आना गंभीर चिंता का मामला है लेकिन भारत में आइएसआइएस अपनी पैठ बनाने में नाकाम रहा है जो अच्छी बात है। भारतीय मुसलमान देशभक्त हैं और किसी चरमपंथी विचारधारा के बहकावे में नहीं आए हैं।.
    राजनाथ सिंह
  • भारत में दुनिया का भरोसा फिर से बहाल हुआ है और देश के साथ वैश्विक भागीदारी नये स्तर पर पहुंच गयी है।.
    राजनाथ सिंह
  • संविधान की मर्यादा के वास्ते आगे भी कदम उठाए जाते रहेंगे।.
    राजनाथ सिंह
  • संस्कारों के साथ समावेशित ज्ञान समाज के लिए कल्याणकारी साबित होता है। शिक्षा और व्यवस्था ऐसी हो जो तन के सुख के लिए धन-धान्य, मन के सुख की खातिर मान-सम्मान और स्वाभिमान, बुद्धि विलास के लिए ज्ञान और आत्मा के सुख के लिए भगवान यानी वैराट्य से साक्षात्कार करा सके।.
    राजनाथ सिंह
  • समाज के लिए आध्यात्मिक विकास उतना ही आवश्यक है जितना भौतिक विकास। आध्यात्मिक विकास के बिना खुशहाली अधिक दिन तक नहीं रह सकती।.
    राजनाथ सिंह
  • वर्दी केवल सादे कपड़े का एक टुकड़ा नहीं है, गर्व करो इस वर्दी पर। यह ‘राष्ट्रीय स्वाभिमान’ की भावना थी जिससे देश को आजादी मिली।.
    राजनाथ सिंह
  • स्वाभिमानी भारत को कोई ललकार नहीं सकता |.
    राजनाथ सिंह
  • सरकार के पास अपने वादे पूरे करने के लिए रणनीति, दूरदृष्टि और राजनीतिक इच्छा शक्ति है और कोई भी भारत जैसे भरपूर क्षमता वाले देश को दुनिया की सबसे विकसित अर्थव्यवस्था बनने से नहीं रोक सकता।.
    राजनाथ सिंह
  • हिन्दुस्तान को यदि धनवान हिन्दुस्तान बनाना है तो गाँवों का विकास करना ही होगा |.
    राजनाथ सिंह
  • हिंदू शब्द भारतीय संस्कृति है और इसी कारण भारत पूरी दुनिया में अकेला ऐसा देश है जिसने इतनी बड़ी शक्ति व प्राकृतिक संपदा से युक्त होने के बावजूद किसी भी दूसरे देश पर कब्जा करने की कौशिश नहीं की है.भारत के ऋषि-मनिषियों ने पूरे विश्व की धरा को परिवार का सदस्य माना है।.
    राजनाथ सिंह
  • नेताओं ने आश्वासन तो बहुत दिया लेकिन उसे पूरा नहीं किया। इसके चलते देश में राजनैतिक विश्वास का संकट पैदा हो गया है।.
    राजनाथ सिंह
  • देश के प्रधानमंत्री ने लालकिले से जो शपथ ली है उसे पूरा करना है और देश के प्रत्येक गाँव को आदर्श गाँव बनाना है।.
    राजनाथ सिंह
  • सरकार किसी भी आतंकवादी संगठन को भारत में पैर नहीं पसारने देगी.
    राजनाथ सिंह
  • संगठित आपराधिक एवं आतंकवादी गिरोहों से निपटने के लिए विश्व के सभी देशों की सरकारों से साथ आने का आह्वान है|
    राजनाथ सिंह
  • मैं ऐसी व्यवस्था सृजित करने का आह्वान करता हूँ जिसमें तन के सुख के लिए धन-धान्य हो, मन के सुख के लिए मान-सम्मान हो, बुद्धि के सुख के लिए ज्ञान और आत्मा के सुख के लिए भगवान हो। आर्थिक व भौतिक विकास के साथ आध्यात्मिक विकास होना बहुत जरूरी है। . 14 jan. 2015
    राजनाथ सिंह
  • Swami Vivekanand was India’s first global youth. The youth power will transform the country into a global super power: HM Sri Rajnath Singh in 19th National Youth Festival, Guwahati . 12 Jan. 2015
    Rajnath Singh
  • Atalji was successful in transforming our economy from the ‘economy of shortages’ to the ‘economy of surpluses’ : HM . 9 Jan. 2015
    Rajnath Singh
  • Mahatma Gandhi believed that political freedom would lead to the social and economic transformation and cultural revival of the country:HM in Prawasi bharteey diwas Gujrat. 9 Jan. 2015
    Rajnath Singh
  • Our government is committed to improve the medical infrastructure of the country : HM in Convocation of KGMU Lucknow. 20 Dec. 2014
    Rajnath Singh
  • 125 करोड़ जनसंख्या देश की बोझ नहीं यह जनशक्ति है इसे श्रमशक्ति में बदला जाएगा : गृहमंत्री . 12 Dec. 2014
    राजनाथ सिंह
  • Naxal violence is a national problem. Centre and the State government will jointly fight this menace. 2 Dec. 2014
    Rajnath Singh
  • Our BSF jawans are the most concerned about ‘Rashtriya Swabhiman’, No power can cast an evil eye on our country. 1 Dec. 2014
    Rajnath Singh
  • There might be many terrorist organisations in the world but we will not allow them to get a foothold in our country. 29 November 2014
    Rajnath Singh
  • Our government wants police forces to do more ‘policing’ than ‘Police Forcing’:HM. 22 November 2014
    Rajnath Singh
  • Announced ‘Disaster Response Medal’ to the forces involved in Disaster Management. 18 November 2014
    Rajnath Singh
  • यद्यपि तीन चौथाई भारतीय या तो हिन्दी जानते हैं या बोलते हैं तथापि इस भाषा को सरकारी कामकाज में नियमित उपयोग में नहीं लाया जाता; यह विडंबना है. 15 November 2014
    राजनाथ सिंह
  • Police Stations should become Temples of Justice. 31 October 2014
    Rajnath Singh
  • The Police should take a cue from our Prime Minister and work towards serving the people
    Rajnath Singh
  • IAF is not only known for its combat capabilities but also for its active role in humanitarian ops in times of crisis & disaster. 08 october 2014
    Rajnath Singh
  • Make In India’ is a step towards creating massive job opportunities. Soon the time will come when ‘Made in India’ will be recognised by the world. 30 Sept 2014
    Rajnath Singh
  • WE should be proud that we have got a Prime Minister like Narendra Modi who is forward looking and has a vision to take India to a new height. 30 Sept 2014
    Rajnath Singh
  • Our scientists have the capability to develop low cost indegineous technologies which could be a model in the world of space exploration.” 24 Sept 2014
    Rajnath Singh
  • We do not believe in violence and we will not allow anyone to take that path of violence”. HM From jungle of Saranda, Jharkhand- 23 Sept 2014
    Rajnath Singh
  • India has a rich tradition in science and technology, Popular literature always carry a positive message. .Indian languages have the ability to become the vehicle for science and technology”. Speech of HM in Saraswati Sammaan Samaroh, New Delhi ( 22 sept. 2014)
    Rajnath Singh
  • India cannot become the superpower unless we recognise the rich cultural heritage of our country on 22 sept. 2014.
    Rajnath Singh
  • Security is the first and foremost requirement for development”, Said HM while Visited BSF HQ New Delhi on 22 sept. 2014.
    Rajnath Singh
  • ESTABLISH A SAARC CENTRE FOR GOOD GOVERNANCE WHERE OFFICERS FROM ALL MEMBER COUNTRIES CAN COME TOGETHER TO EXCHANGE THEIR EXPERIENCES ON GOOD GOVERNANCE.
    Rajnath Singh
  • SAARC members must cooperate to face common challenges.
    Rajnath Singh
  • Politics is an instrument to transform society and the country.
    Rajnath Singh
  • Change of responsibility is a natural process. My term is nearing an end and a new president has to take the responsibility. I will consult my colleagues in the party and take a view.
    Rajnath Singh is set to complete his term in office
  • I called a Core Group meeting of the party on Wednesday where it was decided that BJP’s constitution should be amended to create the post of parliamentary party chairman.
    Rajnath Singh on creation of a new parliamentary party chairman post in BJP
  • I know that the Speaker has referred a notice against me to the privileges committee. I will appear before it whenever they issue a notice.
    Rajnath Singh
  • I would not call him a contender for the post of the Prime Minister, in fact he is an obvious choice. And when we read newspaper reports (touting him a contender for the Prime Minister’s post) regarding a person of such an exceptional personality, then it definitely hurts.
    Rajnath Singh
  • As far as religious conversions are concerned we have already directed the BJP-ruled states to take stern measures against those indulging in conversions through allurement, force and fear.
    Rajnath Singh
  • The country is facing unprecedented challenges ever since the Congress-led coalition came to power at the centre and the government has failed on all fronts.
    Rajnath Singh
  • The political reality today indicates that we should be seen clearly on the pole opposite and different to the Congress. Any kind of confusion, not only in principle but also in political terms, would be detrimental to us.
    Rajnath Singh
  • Dr Ambedkar had said that the ruler who spends public money on unproductive works is a criminal of people.
    Rajnath Singh
Back to Top