सपा और बसपा ने दिया केन्द्र में कांग्रेस का साथ : लखनऊ में श्री राजनाथ सिंह

यह लखनऊ मुहब्बत और तहज़ीब का शहर है जिसकी नुमाइंदगी श्री अटल बिहारी बाजपाई जी ने की है| लखनऊ के बारे में  कहा जाता है कि इस शहर को श्री लक्ष्मण जी ने बसाया था इसलिए सांस्कृतिक दृष्टि से भी शहर लखनऊ बेहद महत्तवपूर्ण है| साथ ही यह लखनऊ श्री अटल बिहारी बाजपाई जी कि कर्मभूमि भी है इसलिए भाजपा कि दृष्टि में भी इस शहर के बड़ा महत्त्व है | इस लखनऊ कि एक ख़ासियत है कि यहाँ अलीगंज में एक हनुमान जी का मंदिर है जिसे हिन्दुओं ने नहीं बल्कि नवाबों ने बनवाया था ! यह तहज़ीब यदि कहीं देखने को मिलती है तो सिर्फ़ इस लखनऊ शहर में मिलती है |

मैंने इसी लखनऊ में एक सामान्य कार्यकर्ता के रूप में काम किया है, एक विधायक, एक प्रदेश अध्यक्ष, एक मंत्री और फिर मुख्यमंत्री के रूप में भी कार्य किया है| मैं आपको ये विश्वास दिलाना चाहता हूँ कि चाहे मैं कहीं भी रहूँ पर सदैव इस लखनऊ का ही होकर रहूँगा|

आज हम सबको मिलकर ये प्रण करना है कि जब तक  श्री नरेन्द्र भाई मोदी भारतवर्ष के प्रधानमंत्री पूर्ण बहुमत की सरकार के साथ नहीं बन जाते तब तक ये मिशन अधूरा ही माना जाएगा | आज़ाद भारत के राजनीतिक इतिहास में कभी भी किसी राजनेता पर इतने राजनीतिक प्रहार नहीं हुए होंगे जितने कि नरेद्र भाई मोदी पर हुए हैं | २००२ से मैं देख रहा हूँ कि हमारे नरेन्द्र भाई पर हर राजनीतिक प्रतिद्वंदी द्वारा अनेक प्रहार किये गए हैं परन्तु इनकी लोकप्रियता दिनोदिन बढती ही गयी है| पिछले बारह वर्षों से हमारे नरेन्द्र भाई मोदी जी पर लगातार घिनौने आधारहीन आरोप लगाए जाते रहे हैं| परमात्मा जब भी किसी से कोई बड़ा काम लेना चाहते हैं तो उसे बड़ी परीक्षाएं भी देनी पड़ती हैं और नरेन्द्र मोदी जी इस परीक्षा में उत्तीर्ण हुए हैं | हीरे को भी चमकने के लिए कई प्रहार झेलने पड़ते हैं इसलिए नरेन्द्र भाई आप पर जीतने भी प्रहार हुए हैं उतनी ही आपकी भारत कि राजनीति में चमक बढ़ती चली गयी है| आज आप केवल हिन्दुस्तान में ही नहीं वरन सारी दुनिया में भी लोकप्रिय हैं |

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बने हुए दो वर्षों का समय गुजर गया है, आप सभी जानते हैं कि आज यहां की कानून-व्यवस्था की हालत क्या हो गई है। गुंडे और बदमाशों के मनोबल बढ़ गए हैं। महिलाओं व बेटियों की आबरू सुरक्षित नहीं है। प्रदेश के मंत्री की भैंस यदि चोरी हो जाती है तो पूरा पुलिस का अमला उसके पीछे लग जाता है! हमारे यहाँ कहा जाता है कि अक्ल बड़ी या भैंस? तो मैं पूछना चाहता हूँ कि सरकार बड़ी या भैंस?

मैं किसान भाइयों को भरोसा दिलाना चाहता हूँ कि हमलोगों ने यह फैसला किया है कि सरकार आने के बाद हम एक ऐसी योजना लागू करेंगे कि आपकी खेत की बुआई के पहले आपके खेत की आमदनी तय कर दी जाए, यह काम कोई सरकार करेगी तो भारतीय जनता पार्टी की सरकार नरेन्द्र भाई मोदी कि अगुवाई में करेगी। जहां पर भारतीय जनता पार्टी की सरकार है, वहां पर जाकर देख लीजिए- एक फीसदी, शून्य फीसदी ब्याज दर पर किसानों को खेती-बाड़ी के कामकाज को लेकर कर्ज मुहैया कराने का काम अगर इस हिन्दुस्तान की सरकार में किन्ही सरकारों ने किया है तो भारतीय जनता पार्टी की सरकारें कर रही हैं| पहली बार आदरणीय श्री अटल बिहारी जी सरकार ने किसान भाइयों को ८.५ % दर पर क़र्ज़ मुहैया कराने का काम किया था जबकि उसके पहले किसानो को १४ से १८ % दर पर कर्ज मिलता था| लगभग ढाई हजार करोड़ रुपया गन्ना किसानों का बकाया पड़ा है। आज तक उसका भुगतान नहीं हुआ लेकिन इस सपा की सरकार को इसके भुगतान की चिंता नहीं है, इन्हें केवल वोट की चिंता है। ऐसे हालात यहां पर हैं।

स्वामीनाथन कमीशन की रिपोर्ट के अनुसार जितनी लागत किसान की खेत में लगती है उसका कम से कम पचास फ़ीसदी मुनाफ़ा उसे मिलना चाहिए एक ऐसी मुक़म्मल व्यवस्था इस हिन्दुस्तान में होनी चाहिए | इस काम को यदि कोई कर सकता है तो भारतीय जनता पार्टी की सरकार ही कर सकती है |

सपा ने कहा था कि हमारी सरकार बनते ही 24 घंटे बिजली मिलेगी। लेकिन नहीं मिल रही है। यहाँ उत्तर प्रदेश में सपा, बसपा और कांग्रेस तीनों एक दूसरे का विरोध करते देते हैं, आरोप लगाते हैं पर विडंबना है कि यहां की समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी दोनों दिल्ली में कांग्रेस की सरकार को समर्थन दे रहे हैं| जल, थल और नभ तीनों क्षेत्रों में भ्रष्टाचार का रिकॉर्ड बनाने का काम यदि स्वतंत्र भारत में किसी ने किया है तो कांग्रेस की सरकार ने सपा और बसपा के समर्थन से किया है| यदि इनका समर्थन नहीं होता तो आज से कई वर्षों पहले ही दिल्ली में कांग्रेस कि सरकार गिर गयी होती और बीजेपी की सरकार बन चुकी होती | मंहगाई बढ़ रही है, भ्रष्टाचार बढ़ रहा है, सीमायें असुरक्षित हैं परन्तु फिर भी सपा और बसपा कांग्रेस को समर्थन दे रहे हैं |बहनों-भाइयों, कांग्रेस, सपा और बसपा के हाथों में हिन्दुस्तान की हिफ़ाज़त संभव नहीं है इनके रहते इस हिन्दुस्तान से भ्रष्टाचार समाप्त नहीं हो सकता है।

आप यदि यह कल्पना करें कि घर की बिल्ली आपकी दूध की हिफाजत करेगी तो क्या यह कभी संभव है? बिल्ली कभी दूध की हिफाजत कर सकती है ? जैसे बिल्ली कभीदूध की हिफाजत नहीं कर सकती है, दूध सामने आएगा तो वह पीएगी ही, उसी तरह जब तक कांग्रेस और सपा इस हिन्दुस्तान में रहेगी, तब तक यह हिन्दुस्तान भ्रष्टाचार मुक्त हिन्दुस्तान नहीं बन सकता है और न ही इसकी हिफ़ाज़त हो सकती है । इस हकीकत को भी समझने की जरूरत है।

लोग यह कहते हैं कि मोदी जी को लगातार बारह वर्ष मिल गए कामकाज के लिए यदि चार या पांच साल ही मिले होते तो शायद यह विकास न कर पाते | यह दलील देने वालों से मैं पूछना चाहता हूँ कि पश्चिम बंगाल में लगातार पैंतीस वर्षों तक मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी कि सरकार रही है क्या विकास हुआ है पश्चिम बंगाल में ? बिहार में पंद्रह वर्षों तक राजद के लालू यादव कि सरकार रही है क्या विकास हुआ है वहां पर ? बहनों भाइयों विकास इस बात पर निर्भर नहीं करता कि किसने कितने वर्षों तक सरकार चलाई है बल्कि सरकार चलाने वाले कि नीयत कैसे है इस पर निर्भर करता है |

आज देश कि सीमा ख़तरे में पड़ी है| पकिस्तान और चीन बराबर सीज़ फ़ायर का उल्लंघन करते हैं, हवाई जहाज़ का ट्रायल करने वाले जवानों कि मौत हो जाती है तो यह सब देखकर बहुत पीड़ा होती है | अभी हाल ही में आपने पढ़ा होगा कि हमारे नौसेना की एक पनडुब्बी सिर्फ़ इस कारण डूब गयी क्यूंकि उसे चलाने वाली बैटरी कि लाइफ ख़त्म हो गयी थी ! इस दुर्घटना में हमारे नौसेना के दो अधिकारी शहीद हो गए| यदि देश कि सुरक्षा में इतना बड़े छिद्र हो गए है फिर भी यह सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है | जिस दिन बीजेपी कि सरकार सता में आएगी हम ऐसे हालात पैदा करेंगे कि भारत कि सुरक्षा व्यवस्था में जो भी कमियां हैं वो सब समाप्त हो जाएगी|

क्यों नहीं रक्षा के अच्छे उपकरण हमारी सेना के जवानों को उपलब्ध करवाए जाते हैं? क्या यहां पर डिफेंस फैक्ट्री नहीं खोली जा सकती जहां पर अच्छे किस्म के रॉकेट लाउंचर, रायफल्स या अन्य अच्छे किस्म के हथियार तैयार नहीं किए जा सकते। यह करने की जरूरत कांग्रेस की सरकार ने नहीं समझी ? जबकि हमारे यहां डिफेंस रिसर्च एंड डिवेलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन भी है। भाजपा की सरकार बनने पर सेना के जवानों के लिए हथियार की जरूरत को पूरा करने के लिए विदेशों के आगे हाथ नहीं फैलाना होगा, सारे हथियार भारत की फैक्ट्री में और वो भी स्वदेसी तकनीकी से तैयार होंगे।

जिस प्रकार १९७७ में जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश की जनता ने ८५ की ८५ सीटों पर जिताकर संसद पहुँचाया था उसी प्रकार आप बीजेपी को अस्सी की अस्सी सीटों पर अपना आशीर्वाद दें क्यूंकि इस बार का चुनाव सरकार बनाने का चुनाव मात्र नहीं है बल्कि देश बनाने का है |

उत्तर प्रदेश में हुई भयंकर ओलावृष्टि कि वजह से किसानो की फ़सल बर्बाद हो गयी है इसलिए मैं उत्तर प्रदेश की समाजवादी सरकार से कहना चाहता हूँ कि जिस प्रकार गुजरात में, छतीसगढ़ में, मध्य प्रदेश में हमारी सरकारों के द्वारा किसानो कि फ़सल बर्बाद होने पर उन्हें उचित मुआवज़ा दिया जाता है ठीक वैसे ही यहाँ के किसानों को भी दिया जाए|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to Top